कभी वॉचमेन का काम किया करते थे ये ऐक्टर, आज इनकी ऐक्टिंग के दीवाने पूरी दुनिया मे हे…

हर सफल व्यक्ति के पीछे की ज़िन्दगी बहुत ही मुश्किल और कठनाइयों से भरी हुई होती है। आज हम बात करने जा रहे हे नवाज़ुद्दीन सीदीकी की,  जीनके एक्टिंग के दीवाने पूरी दुनिया में हैं। ज़िन्दगी के उतार चढ़ाव को पार करके आज वो इंडस्ट्री के सुपरस्टार एक्टर बने हे।

19 मे, 1974 को मुज़फ्फरनगर डिस्ट्रिक्ट,UP के छोटे से गाँव बुधना  के मुस्लिम परिवार में उनका जन्म हुआ था। वो 7 भाई और 2 बेहेंन हैं। उनके पिता किसान थे। उनके गाँव का माहोल ठीक नहीं था वहां के लोग बस तिन चीज़े जानते थे- गेहूं , गन्ना और गन। आगे की पढाई को पूरा करने के लिए नवाज़ुद्दीन गाँव से बाहर चले गए।

बचपन से उनका मन प्ले करने में लगा रहेता था इसलिए उन्होंने अपनी ज़िन्दगी का एहम फैसला लिया और एक्टिंग सिखने के लिए  दिल्ली चले गए। वहा नवाज़ ने एक प्ले ग्रुप जॉइन किया जहाँ से वो एक्टिंग का टैलेंट हासिल कर सके। उसमे नवाज़ ने मनोज बाजपेयी और सौरव शुक्ला के साथ मिलकर काम किया। उस प्ले से उनको उतने पैसे नहीं मिलते थे। इसलिए उन्होंने दिल्ली के एक ऑफिस में वॉचमेन का काम किया। अपनी ड्यूटी ख़तम करने के बाद वो प्ले सीखते थे।

मुंबई  में 4 साल छोटे रोल्स करने के बाद उन्हें एक बड़ा ब्रेक मिला जो अनुराग कश्यप ने अपनी फिल्म ब्लैक फ्राइडे के लिए नवाज़ को चुना था, वहां से नवाज़ के ज़िन्दगी का टर्निंग पॉइंट शुरू हुआ। धीरे धीरे डायरेक्टर  और पप्रोड्यूसर नवाज़ को अपनी फिल्मो के लिए साइन  करने लगे और नवाज़ुद्दीन के एक्टिंग के दीवाने दुनिया में बढ़ने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.