गौतम अदानी के कर्मचारियों ने किया करोड़ो का नुकसान, तब भी इस्तीफा स्वीकार करने के बदले कही ये बात, जानकर आप भी चौंक उठेंगे

अदानी ग्रुप के जाने-माने बिजनेसमैन गौतम अदानी को साल 2020 में फोर्ब्स में सबसे अमीर लोगों में शुमार किया गया है। गौतम अदानी में जोखिम लेने और अवसरों की पहचान करने की दूरदर्शिता है। यही कारण है कि हीरा कारोबारी के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाले गौतम अदानी ने कमाई के मामले में दुनिया के कई कारोबारियों को पीछे छोड़ दिया है।

इसी क्रम में गौतम अदानी का एक मामला बेहद चर्चित है। जब एक कर्मचारी ने अपनी गलती के कारण इस्तीफा दे दिया तो गौतम अदानी ने उस कर्मचारी के सामने इस्तीफा फाड़ दिया। यह घटना 1990 की है। mइस समय अदानी एक्सपोर्ट कंपनी के एक कर्मचारी ने चीनी के व्यापार में गलत निर्णय लिया था। इससे कंपनी को 20 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। जिस वजह से कर्मचारी ने खुद को इस डर से इस्तीफा दे दिया कि उसे निकाल दिया जाएगा।

लेकिन जब व्यक्ति इस्तीफा देने के लिए गया था गौतम अदानी ने उस कर्मचारी के सामने इस्तीफा फाड़ दिया था। इस पर गौतम अदानी ने कहा कि उन्हें एहसास है कि ऐसी गलती दोबारा नहीं होगी। अदानी का न केवल कर्मचारियों के प्रति ऐसा रवैया है, बल्कि दोस्त बनाने और दोस्ती बनाए रखने में भी विश्वास रखते है। इसी वजह से अदानी की दोस्ती राजनेताओं और बड़े कारोबारियों से है।

विपक्षी दलों ने आरोप लगाया है कि अंबानी और अदानी प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल के सबसे बड़े लाभार्थी थे। हालांकि गौतम अडानी और पीएम मोदी की दोस्ती के बारे में तो सभी जानते हैं। जब मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने अदानी के विमान का इस्तेमाल किया था। इस संबंध में गौतम अदानी ने कहा कि उनकी कंपनी गुजरात की है और इसलिए इसका इस्तेमाल करना आसान है

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक गौतम अदानी ने 2021 की ग्रोथ रेट के हिसाब के तौर पर एलन मस्क जो दुनिया के सबसे अमीर शख्स है, उन्हे पीछे छोड़ दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.