विरोध प्रदर्शन पर महिलाओं-पुरुषों को रस्सी से बांधा गया, बिहार पुलिस का अमानवीय चेहरा आया सामने…

बिहार के गया में पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है। जिसका वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। पुलिस बालू की बंदोबस्ती के लिए मोरहर नदी में सीमांकन करने पहुंची थी। जहां उन्हें ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए वहां मौजूद महिलाओं और पुरुषों के हाथों को रस्सी से बांध दिया, जिसका वीडियो वायरल हो गया।

घटना बेलागंज प्रखंड के आढ़तपुर गांव के मोरहर नदी के पास की बताई जा रही है, जहां पुलिस नदी में बालू की बंदोबस्ती की मापी करने गई थी। वहां ग्रामीण बालू उठाव का विरोध कर रहे थे और इसी को लेकर पुलिस पर गांव वालों ने हमला बोल दिया।

पुलिस मोरहर नदी में सीमांकन के पहुंची पुलिस से ग्रामीणों की झड़प हो गई, जिसमें 9 पुलिसकर्मी घायल हो गए. पुलिस ने इस मामले में एक दर्जन से ज्यादा महिलाओं-पुरूषों को हिरासत में ले लिया और उसके बाद पुलिस ने सभी के हाथों को पीठ के पीछे करके अपराधियों की तरह बांध दिया। पुलिस ने इसके बाद सभी को वाहन से कोर्ट भेज दिया। उन्होंने कहा, सीमांकन के लिए गई पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला किया और पत्थर चलाए जिसमें दस जवान घायल हो गए। उनका इलाज चल रहा है।

वायरल वीडियो 15 फरवरी का बताया जा रहा है। अब इसे लेकर सवाल खड़े हो गए हैं कि आखिर पुलिस ने लोगों को अपराधियों की तरह क्यों बांध दिया। वहीं इस मामले को लेकर सिटी एसपी राकेश कुमार का कहना है कि जो भी सरकारी काम में बाधा डालेगा, उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.