सिपाही के दोनों बेटों ने ऐसे किया पिता का नाम रोशन, जानकर पूरा गांव कर रहा है गर्व

सिपाही के दो बेटों ने इस तरह नाम रोशन किया, पूरा गांव बन गया राजनी रेड कहा जाता है कि जहां चाह होती है वहीं राह होता है, दरअसल मथुरा के कोटवाली थाने में तैनात एक सिपाही के जुड़वा बेटों ने इतिहास रच दिया. यूपीपीसीएस परीक्षा में दो भाइयों में से एक का डेप्युटी कलेक्टर और दूसरे का मामलातदार पद के लिए हुआ था। रिजल्ट आते ही सिपाही के घर पर जश्न का माहौल देखने को मिला। उनके घर पर बधाई की बारिश हो गई है।

घर में खुशियों का माहौल

प्राप्त जानकारी के अनुसार पीसीएस परीक्षा के लिए फिरोजाबाद जिले के सिंहपुर निवासी सिपाही अशोक यादव के पुत्र मोहित यादव व रोहित यादव की पसंदगी हुई है. दोनों जुड़वां हैं। परीक्षा में मोहित यादव ने 30वीं रैंक हासिल की है। उन्हें एसडीएम के पद मिले हैं। मोहित के बड़े भाई रोहित यादव 33वें स्थान पर हैं, जबकि उन्हें नायब मामलातदार चुना गया है।

उल्लेखनीय है कि दोनों के पिता अशोक कुमार मथुरा थाने के कोतवाली नगर में मुंशी के पद पर कार्यरत हैं। रिजल्ट आते ही सिपाही के परिवार और दोस्तों में खुशी की लहर दौड़ गई. मथुरा में तैनात सिपाही पुष्पेंद्र यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उनके चाचा अशोक यादव के जुड़वां बेटे रोहित यादव को डेप्युटी कलेक्टर, जबकि मोहित यादव को डेप्युटी मामलतदार चुना गया है.

कांस्टेबल ने कही ये बात

कांस्टेबल अशोक यादव ने बताया कि उनके दोनों बेटों ने आठवीं तक देहरादून में पढ़ाई की है। इसके बाद दोनों ने आगरा पब्लिक स्कूल से 12 वीं पास की। इसके बाद दोनों ने साल 2017 में एचबीटीयू कानपुर से बीटेक की डिग्री ली। पीसीएस दोनों पहले प्रयास में फेल हो गए। दूसरी परीक्षा में दोनों ने अपने वैकल्पिक विषय के रूप में इतिहास को चुना, उनका मानना ​​है कि इन दोनों की सफलता मेरे लिए दोहरा मेडल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.