Flipkart: दो इंजीनियर के इसे संघर्ष ने खड़ी कर दी करोड़ों की कंपनी…

आज कल ई-कॉमर्स का बिजनस बहोत तेजी से फेल रहा हे। एसी ही एक ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट काफी तेजी से आगे बढ़ रही है। इनके बारेमे आज हम आपको बताएंगे। इनके फाउन्डर का नाम सचिन बंसल और बिन्नी बंसल है| सचिन बंसल का जन्म 5 अगस्त 1981 में चंडीगढ़ में हुआ था | आईआईटी दिल्ली से कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग ब्रांच से अपनी स्नातक की हे।

सचिन बंसल ने वर्ष 2006 में अमेज़न में एक वर्ष तक नौकरी की और फिर वर्ष 2007 में इस कंपनी को छोड़कर बिन्नी बंसल के साथ ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट की शुरुआत कर दी। बिन्नी बंसल का जन्म वर्ष 1983 में चंडीगढ़ में हुआ था। उसका कैरियर पाथ भी सचिन की तरह ही था। शुरुआत में दोनों ने मिलकर अपनी बचत में से 40,0000 रुपये का निवेश करके सबसे पहले किताब बेचने का व्यापार आरम्भ किया जिसमे शुरुआती 10 दिनों में एक भी आर्डर नहीं मिला |

पहले वर्ष उन्हें मात्र 20 आर्डर मिले। उन्होंने जब इस कंपनी की शुरुआत की थी तब भारत में भी लोगों को ऑनलाइन सामान मंगाने वाला पर विश्वास नहीं रहता था। फ्लिपकार्ट ने वर्ष 2010 में देश में पहली बार Cash On Delivery की सुविधा शुरू की। जिसकी वजह से लोगों की दिलचस्पी फ्लिपकार्ट पर बहुत ज्यादा ही बढ़ गई।

बाद कंपनी ने दूसरे प्रोडक्ट के साथ साथ इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट और मोबाइल भी ऑनलाइन बेचने शुरू कर दिए | अन्य कंपनियों की तरह वर्ष 2014 में फ्लिपकर्ट ने एक ‘बिग बिलियन सेल’ का आयोजन किया था । उस दिन कंपनी का कुल टर्नओवर 300 मिलियन डॉलर रहा था।

फ्लिपकार्ट ने अपने इस सफर में सर्विस को लेकर बहुत उतार चढ़ाव भी देखे है | सामानों की कीमते कई बार आवश्यकता से अधिक होती है जिनके कारण उन्हे भारी नुकसान सहन करना पड़ा हे। वर्ष 2018 में कंपनी के 77 फीसदी शेयर अमेरिका के रिटेल चेन Walmart ने US $15 बिलियन में खरीद लिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published.