शादी से पहले जरूर करवा लें अपने भावी पार्टनर के ये 4 मेडिकल टेस्ट, वरना शादी के बाद हो सकती हैं दिक्कतें…

आप किसी के साथ अपनी पूरी जिंदगी बिताने का सपना देख रहे हैं तो उससे पहले आपको अपने पार्टनर के मेडिकल स्टेटस के बारे में पता होना काफी जरूरी होता है। ऐसे में शादी से पहले सभी लोगों को अपने पार्टनर के ये 4 मेडिकल टेस्टजरूर कराने चाहिए। ताकि आपको आने वाली नई जिंदगी में किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े।

जेनेटिक टेस्ट: आनुवांशिक बीमारियां एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में आसानी से जा सकती हैं। ऐसे में जरूरी है कि शादी से पहले जेनेटिक टेस्ट जरूर कराएं। जेनेटिक बीमारियों में स्तन कैंसर, पेट का कैंसर, किडनी डिजीज और डायबिटीज शामिल हैं।

सेक्शुअली डिजीज टेस्ट: आजकल के समय में शादी से पहले यौन संबंध बनाना काफी आम हो गया है। ऐसे में जरूरी है कि आप सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिजीज का टेस्ट करवा लें। इन बीमारियों में एचआईवी, एड्स, गोनोरिया, हर्प्स, हेपेटाइटिस सी शामिल हैं। ये कुछ ऐसी बीमारियां हैं जो असुरक्षित यौन संबंध की वजह से फैलती हैं।

इनफर्टिलिटी टेस्ट: पुरुषों के स्पर्म काउंट और महिलाओं की ओवरी हेल्थ के बारे में जानने के लिए इनफर्टिलिटी टेस्ट करवाना काफी जरूरी होता है। भविष्य में बेबी प्लानिंग या फिर आपकी नॉर्मल सेक्सुअल लाइफ के लिए यह काफी जरूरी होता है। शरीर में इनफर्टिलिटी से जुड़े कोई भी लक्षण पहले से नजर नहीं आते। इसके बारे में टेस्ट के जरिए ही जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

ब्लड ग्रुप कंपैटिबिलिटी टेस्ट: अगर आप दोनों के ब्लड ग्रुप अनुकूल नहीं होते तो इससे प्रेग्नेंसी के दौरान आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप भविष्य में फैमिली प्लानिंग करना चाहते हैं तो आपको ये टेस्ट करवाना चाहिए। यह जरूरी है कि आपका और आपके पार्टनर का आरएच फैक्टर एक जैसा हो।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.