रूस की अंतरिक्ष एजेंसी ने अमेरिका को दी धमकी, भारत पर…

यूक्रेन (Ukraine)पर रूस का हमला जारी है। इस बीच, अमेरिकी(USA) राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा है कि अगर उनके रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन(Putin) को अब नहीं रोका गया तो उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा। जो बाइडेन(Biden) ने कहा है कि अगर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) देशों में प्रवेश करते हैं तो अमेरिका हस्तक्षेप करेगा। इसके बाद रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोमोस के चीफ दिमित्री रोगोजिन ने जवाबी कार्रवाई की है। रोगोजिन ने चेतावनी दी है कि अगर वाशिंगटन सहयोग करना बंद कर देता है, तो अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISIS) को अनियमित डीऑर्बिट से कौन बचाएगा?

रूस की अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख ने दी चेतावनी:

जानकारी के मुताबिक, रूस की अंतरिक्ष एजेंसी(Space Agency) रोस्कोमोस के प्रमुख दिमित्री रोगोजिन ने ट्वीट कर अमेरिका के फैसले के बाद चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि ‘अगर आप हमारा सहयोग करना बंद कर देंगे तो आईएसएस को अनियंत्रित होकर अमेरिका या यूरोप में गिरने से कौन बचाएगा?’ रोगोजिन ने ट्वीट के धागे में धमकी भरे लहजे में कहा- ‘भारत(India) रूस के करीब है और एक विकल्प है। चीन के लिए 500 टन का ढांचा गिराया जाएगा।

क्या अमेरिका जोखिम लेने के लिए तैयार है?

रोगोजिन ने कहा कि आईएसएस रूस के ऊपर से नहीं उड़ता है, इसलिए सभी जोखिम आपके हाथों में हैं। क्या आप उनके लिए तैयार हैं? अन्यथा हम एक साथ काम नहीं करेंगे और अपना स्टेशन नहीं बनाएंगे।

बाइडेन ने दिया था बयान:

व्हाइट हाउस में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जो बाइडेन ने कहा, ‘अगर वह (पुतिन) नाटो देशों में प्रवेश करते हैं तो हम हस्तक्षेप करेंगे। एकमात्र चीज जो मुझे यकीन है वह यह है कि अगर हम उन्हें अभी नहीं रोकते हैं तो उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा। अगर हम अब उनके खिलाफ सख्त प्रतिबंध नहीं लगाते हैं तो उन्हें बढ़ावा मिलेगा। बिडेन ने इस अवधि के दौरान रूस के खिलाफ कई बड़े प्रतिबंध लगाने की भी घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.