भारत के इन बड़े राज्य मे किसकी बनेगी सरकार? क्या कहते हैं सट्टा बाजार के ट्रेंड, UP और पंजाब के बारे मे….

भारत के अलग अलग पांच राज्यों में  2022 के फरवरी मार्च में चुनाव आयोजित होने वाला हैं। इस चुनाव मे सबसे बड़े राज्य  पंजाब और उत्तर प्रदेश हैं। ऐसे में आम लोगों और विशेषज्ञों की निगाहें एक ही विषय पर है की इन दोनों राज्यों में किसकी सरकार बनेगी। इसके साथ ही सट्टा बाजार में भी इस पर बोली लगाए जा रहे हैं। सट्टा बाजार के मुताबीत पंजाब में आम आदमी पार्टी और उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की जीत हो सकती है।

एक वरिष्ठ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सट्टा बाजार के शुरुआती पड़ाव में बीजेपी भारत का सबसे बड़े यूपी में सत्ता बरकरार रखने में सफल रहेगी। हालांकि जीतने में तो इस बार कामयाब रहेगी लेकिन भूतकाल के यानि 2017 के विधानसभा चुनावों की तरह उसे 300 से ज्यादा सीटें नहीं मिलेगी। सट्टा बाजार के मुताबीत यूपी में बीजेपी को 250 के नजदीक सीटें मिलने की आशा है, जो बहुमत से काफी ज्यादा और वो आसानी से सरकार बना लेंगे।

सट्टा बाजार में सपा को उत्तर प्रदेश में भाजपा का मुख्य विरोधी माना गया है। 207 में सपा को 47 सीटें मिली थीं। इस बार ये सीटें बढ़कर 100 के आसपास हो सकती हैं। वहीं कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी के यूपी में 5 से 10 सीटों तक सीमित रहने की बात सट्टा बाजार में कही गई है। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन और अरविंद केजरीवाल की आप यूपी में कोई प्रभाव नहीं छोड़ पाएगी।

और अगर हम पंजाब की बात करे तो सट्टा बाजार ने किसी को बहुमत नहीं मिलने और त्रिशंकु विधानसभा की बात कही है। सट्टा बाजार के हिसाब से पंजाब में आप को सबसे अधिक सीटें दी हैं लेकिन  उसे बहुमती नहीं मिलेगी। 117 सीटों वाली पंजाब विधानसभा में सट्टेबाजों को आप और कांग्रेस दोनों को ज्यादा से ज्यादा 40 सीटें और कमसे कम 25 सीटें जीतने की उम्मीद है। बीजेपी और अकाली दल को 5 से 10 सीटों तक सीमित रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.