दुनिया को बचाने फिर से आएगा शक्तिमान, आखिर क्यों उस वक्त बंद हो गया था शो?…

90 के दशक में जो बच्चे बड़े हुए उनके लिए ’शक्तिमान’ के साथ कई यादें जुड़ी हुई हैं। उस वक्त खासकर बच्चों के बीच शो का जबरदस्त क्रेज था। देश के पहले सुपरहीरो ‘शक्तिमान’ पर अब फिल्म बनने जा रही है। वैसे तो इसे लेकर काफी समय से चर्चा थी। आखिरकार सोनी पिक्चर्स इंटरनेशनल प्रोडक्शन्स ने एक टीजर शेयर कर इसकी पुष्टि कर दी है। जैसे ही इसका टीजर सामने आया सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़ आ गई। जब दूरदर्शन पर यह शो प्रसारित होता था तब मुकेश खन्ना मुख्य भूमिका में थे। वह डबल रोल में थे। इतनी लोकप्रियता के बावजूद ’शक्तिमान ’ को बीच में बंद कर दिया गया।

मुकेश खन्ना ने इससे इनकार किया कि कुछ लोगों का कहना था कि बच्चे घायल हो गए इस वजह से शो बंद कर दिया गया। बच्चों के घायल होने की खबरें सही नहीं थीं और ना ही इस वजह से शो को बंद किया गया। ‘शक्तिमान‘ की लोकप्रियता के साथ कई जगह से ऐसी खबरें आने लगी थीं कि शक्तिमान की तरह घूमते हुए किसी बच्चे को चोट लग गई तो कोई छत से नीचे गिर गया। उस वक्त शो को बंद करने की मांग भी होने लगी थी। हालांकि ऐसा कुछ साबित नहीं हुआ।

अपने यूट्यूब चैनल पर मुकेश खन्ना ने बताया कि ‘मैं दूरदर्शन के डीजी से मिलने गया उन्हें शक्तिमान का कॉन्सेप्ट बहुत पसंद आया था। उन्होंने शनिवार की सुबह का टाइम स्लॉट दिया। उस वक्त ज्यादातर 26 एपिसोड या बहुत हुआ तो 52 एपिसोड दिए जाते थे। मैंने उन्हें शनिवार के साथ रात का एक स्लॉट देने के लिए कहा तो डीजी मान गए और मुझे शनिवार को दिन में 11.30 से 12.30 बजे और मंगलवार को 10.30 से 11.30 रात बजे का स्लॉट मिल गया।

शो की बढ़ती कीमत को देखते हुए मुकेश खन्ना को ‘शक्तिमान’ से घाटा होने लगा था। इस वजह से उन्होंने इसे बंद करने का फैसला ले लिया और ‘शक्तिमान’ की कहानी भी अधूरी रह गई। 2004 में ‘शक्तिमान’ को बंद कर दिया गया। मुकेश बताते हैं कि उस वक्त इस स्लॉट की कीमत 3.80 लाख थी। 150-200 एपिसोड बाद उन्होंने कहा कि क्यों आप नॉन प्राइम टाइम कर रहे हैं, संडे को क्यों नहीं करते? मैं मान गया कि संडे करते हैं। मुझे पता चला संडे के एपिसोड की कीमत 7.80 लाख थी। 104 एपिसोड हुए तो मुझे पता चला 10.80 लाख फीस हो गई। मुझे पता चला कि वे इसे 16 लाख करने वाले हैं। इसे लेकर मैंने प्रोटेस्ट भी किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.