हरियाणा की इस लड़की यूक्रेन छोड़ने से कीया इनकार, वजह जान हो जाएंगे इमोशनल…

ऑपरेशन गंगा(Operation Ganga) के तहत यूक्रेन(Ukraine) में फंसे भारतीयों को बाहर निकलाने के लिए भारत सरकार जुटी हुई है। इस क्रम में वहां पर फंसी हरियाणा की मेडिकल स्टूडेंट ने यूक्रेन छोड़ने से इनकार कर दिया है। इनके पीछे वजह जानकर आप इमोशनल हो जाएंगे। दरअसल, 17 साल की ये लड़की अपनी पीजी की मालिक और उनके तीन बच्चों के साथ यूक्रेन में रह रही थी।

तीन बच्चों और उसकी मां की करूंगी​ रक्षा:

हरियाणा के चरखी दादरी जिले में रहने वाली एक नेहा ने अपनी मां से कहा,’ मैं रहूं या न रहूं, लेकिन मैं इन बच्चों और उनकी मां को ऐसी स्थिति में नहीं छोड़ूंगी’. रिपोर्ट क मुताबिक, नेहा के पिता इंडियन आर्मी में थे। पिछले साल ही नेहा ने यूक्रेन के मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लिया था। अभी फिलहाल नेहा एक बंकर में एक महिला और उनके तीन बच्चों के साथ रह रही है।

आप भी हो जाएंगे इमोशनल:

हरियाणा(Haryana) की इस लड़की को वॉर कंट्री छोड़ने का मौका भी मिला, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। इसके पीछे की वजह है यह है कि जिस घर में हरियाणा कि ये लड़की रह रही थी उस महिला का पति देश में चल रहे युद्द के लिए यूक्रेनी सेना में शामिल हो गया है, जिसके बाद इस लड़की ने इस महिला और उसके तीन बच्चों को समर्थन करने के लिए खड़ी हुई है।

हॉस्टल में रूम नहीं मिल रहा था:

उन्होंने हाल ही में अपने परिवार से कहा कि हमें बाहर होने बाले ब्लास्ट की आवाज भी सुनाई दी, लेकिन अभी हम लोग ठीक हैं। एमबीबीएस की स्टूडेंट नेहा ने यूक्रेन की राजधानी कीव में एक निर्माण इंजीनियर के घर में रूम लिया था क्योंकि उन्हें हॉस्टल में रूम नहीं मिल रहा था।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही ये पोस्ट:

नेहा की मां की खास दोस्त सविता जाखर (Savita Jakhar) ने बताया कि नेहा अपनी हाउस के मालिक और उनके बच्चों से काफी अटैच हैं। यूक्रेन में युद्द के बढ़ते खतरे को देखते हुए उसे देश छोड़ने को कहा गया, लेकिन उन्होंने यूक्रेन नहीं छोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.