भेंस चराने वाली युवती को ये सीरियल देखकर मिली आईएएस बनने की प्रेरणा, बाद में किया ऐसा काम को जानकर आप भी सलाम करेंगे

हमारे देश में हर साल लाखों उम्मीदवार UPSC की परीक्षा देते हैं। संघ लोक सेवा आयोग (भारतीय प्रशासनिक सेवा) की इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको दिन-रात मेहनत करनी पड़ती है। जिसके बाद आईएएस बनने का सपना पूरा होता है। ऐसी ही एक महिला ने सभी को आईएएस अधिकारी बनकर प्रेरित किया है। इस होनहार युवती का नाम सी. वनमती है। कई कठिन परिस्थितियों का सामना करते हुए उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास की और एआईएस बनने के अपने सपने को पूरा किया। इस आईएएस की सफलता की कहानी बहुत ही मार्मिक है।

यह कहानी एक ऐसी लड़की की है जिसका बचपन संघर्षों से भरा है, फिर भी उसने हिम्मत नहीं हारी और सिविल सेवा परीक्षा पास करने के लिए कड़ी मेहनत की। वह केरल की रहने वाली है। उनका बचपन गरीबी में बीता था और वह अध्यापन में बहुत प्रतिभाशाली थी। उसके पास बहुत सारा ज्ञान था, लेकिन अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए उसने अध्ययन के माध्यम से बदलाव लाने का फैसला किया।

उसके परिवार और रिश्तेदार चाहते थे कि 12वीं पास करते ही उसकी शादी कर दी जाए। उसे परिवार से शादी करने के लिए मजबूर किया गया, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और अपनी पढ़ाई जारी रखी। एक टीवी सीरियल देखकर उन्हें आईएएस ऑफिसर बनने की प्रेरणा मिली। टीवी सीरियल गंगा यमुना सरस्वती में नायिका एक आईएएस अधिकारी है, यही से ही उसने यूपीएससी पास करके आईएएस बनने का फैसला किया था।

एक तरफ परिवार की आर्थिक स्थिति खराब थी तो दूसरी तरफ शादी के लिए दबाव देने के बाद भी उसने हिम्मत नहीं हारी। अपनी पढ़ाई जारी रखते हुए, उसने 2015 में संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा उत्तीर्ण की और आईएएस अधिकारी बनने के अपने सपने को पूरा किया।

उन्होंने दूसरे प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास की थी। पहले प्रयास में असफल होने के बाद, उन्होंने फिर से परीक्षा दी और 2015 में परीक्षा उत्तीर्ण की। उनके पिता को उस दिन अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

कहावत है की बिना मेहनत के सफलता कभी नहीं मिलती, मेहनत के बाद ही सफलता मिलती है, जिसे इस महिला ने एकदम सच साबित कर दिया है। यूपीएससी की परीक्षा में हर साल लाखों उम्मीदवार शामिल होते हैं, लेकिन उनमें से बहुत कम ही सफल होते हैं। सी.वनवती वन संघ लोक सेवा आयोग ने IAS पास किया था। उनका आईएएस बनने का सफर एक संघर्ष भरा रहा है। लेकिन कई संघर्षों का सामना करते हुए वह आज आईएएस के पद पर हैं। उनकी कहानी लाखों लोगों के लिए प्रेरणादायी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.