खोज रहा था ये जानवर खाना, ढूंढ निकाला उसने रोम का खजाना…

उत्तरी स्पेन में एक भूखा बैजर अपने लिए जमीन के अंदर खाना खोज रहा था। लेकिन वहां पर प्राचीन रोमन साम्राज्य का खजाना बाहर निकल आया। इसका खुलासा तब हुआ जब दो पुरातत्वविद एक गुफा में जाकर प्रचीन वस्तुओं की खोज कर रहे थे। आपको बात दे की नेवले जैसे जीव अपना खाना खोजने के लिए कई बार जमीन के अंदर खुदाई करते हैं।

इस खजाने के पास ही बैजर जीव की मांद भी थी। पुरातत्वविदों का मानना है कि यह बैजर बेहद भूखा रहा होगा। क्योंकि यहां बर्फीला तूफान फिलोमेना आया था ओर ईसकी वजह से चारों तरफ बर्फ जमा हो गई थी। जिसकी वजह से खाना खोजना मुश्किल था। इसलिए यह बेजर जीव सूंघ कर अपने खाने की तलाश बर्फ के नीचे दबी मिट्टी के अंदर कर रहा था।

बैजर जैसे जीव अपने खाने को खोजता है तब वह पहले मिट्टी में बनी दरार से आ रही गंध सूंघते हुए चलता है। जैसे ही कोई गंध मिलती है यह अपने नुकीले पंजों से उसे खोदना शुरु कर देता है। लेकिन जब उसे काम की वस्तु नहीं मिली तो उसने दूसरी जगह खनन कार्य शुरु किया। जब रोमन खजाने से उसे कोई फायदा नहीं दिखा तो उसने उसे वहीं छोड़ दिया।

बर्फ पिघलने के बाद उस जगह पर दो आर्कियोलॉजिस्ट पहुंचे ओर इलाके की एक गुफा में यह खजाना खोजा। जिसकी रिपोर्ट हाल ही में आर्कियोलॉजिकल जर्नल में प्रकाशित हुई है। आर्कियोलॉजिस्ट ने बताया कि ग्राडो एक जंगली इलाका है। घने जंगल के बीच गुफा मिली थी। रोमन साम्राज्य के खजाने में 209 तरह की वस्तुएं शामिल थीं। इसमे मीले 14 सोने के सिक्के भी थे। ऐसा माना जा रहा है कि ये सिक्के तुर्की के कॉन्सेटिनोप्ले (वर्तमान इस्तांबुल) और ग्रीस के थेसालोनिकी में गढ़े गए थे।

हाल ही में मिले सोने के सिक्के भी इसी समय के माने जा रहे हैं। क्योंकि कॉन्सटेनटाइन-1 अपने सिक्के तुर्की और ग्रीस में गढ़वाता था। इससे पहले इस इलाके में रोम साम्राज्य में करने वाले कॉन्सटेनटाइन-1 के समय की वस्तुएं मिली थीं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.