10 साल की मेहनत के बाद गरीब घर का युवान इस तरह से बन गया कांस्टेबल, जानकी आप भी गर्व करेंगे

हाल ही दिल्ली में से एक प्रेरणादायक घटना सामने आई है। यहां फिरोज आलम नाम के एक पुलिस कांस्टेबल ने अपने जोश और मेहनत से यूपीएससी की परीक्षा पास की है। वह पुलिस की पीसीआर यूनिट में काम कर रहे है। यूपीएससी की परीक्षा पास करने के बाद फिरोज आलम अब डेनिक्स के तहत दिल्ली पुलिस में एसीपी की ट्रेनिंग ले रहे हैं।

फिरोज आलम 10 साल से दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल के पद पर कार्यरत था। साथ ही वह लगातार प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था। उन्होंने देश के सबसे प्रतिष्ठित यूपीएससी की तैयारी की है और परीक्षा उत्तीर्ण की है, जिससे साबित होता है कि कड़ी मेहनत हमेशा रंग लाती है। फिरोज दिल्ली पुलिस में एसीपी बन गए हैं। वह वर्तमान में दिल्ली पुलिस प्रशिक्षण सेंट जादोदकला में प्रशिक्षण ले रहा है और अगले साल मार्च तक उसकी नियुक्ति हो जाएगी।

फिरोज का जन्म पिलखुवा के आजमपुर देहरा गांव में हुआ था। फिरोज को 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद 2010 में दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल की नौकरी मिल गई। फिरोज के परिवार में पांच भाई और तीन बहनें हैं।

फिरोज ने कहा, “2010 में दिल्ली पुलिस में शामिल होने के बाद, वरिष्ठ अधिकारियों के काम करने और उनके साथ काम करने के तरीके से मैं बहुत प्रभावित हुआ।” इसके बाद मैंने तय किया कि मुझे भी अफसर बनना है और यूपीएससी के जरिए ही रास्ता बचा है। मैंने अपनी नौकरी के अलावा परीक्षा की तैयारी भी शुरू कर दी थी।”

फिरोज ने कहा, “यूपीएससी पास करना इतना आसान नहीं है जितना मैंने सोचा था।” मैं असफल होता रहा। पांच बार फेल होने के बाद मैंने अफसर बनने का सपना लगभग छोड़ दिया था लेकिन मुझे एक दिन राजस्थान के झुंझुनू जिले के नवलगढ़ तालुका के देवीपुरा के विजय सिंह गुर्जर मिले। वह पुलिस के एक सिपाही से आईपीएस बन गए थे। जिस देखकर मुझे हिम्मत आई और मैंने छठा प्रयास किया। जिसके बाद साल 2019 में मैंने यूपीएससी की परीक्षा 645 रैंक के साथ पास की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.