अमेरिका की अच्छी नोकरी छोड़कर भारत आया ये व्यक्ति, घर आकर शुरू किया बिजनेस और आज सालाना कमा रहे है 44 करोड़ रूपए

जीवन में पैसा ही सब कुछ नहीं होता, संतोष नाम की भी कोई चीज होती है। इस संतुष्टि को पाने के लिए लोग किसी भी हद तक जा सकते हैं। अब किशोर इंदुकुरी का उदाहरण लेते हैं, जो IIT खड़गपुर से स्नातक पूर्व इंजीनियर हैं। किशोर अपनी मास्टर डिग्री और पीएचडी पूरी करने के बाद अमेरिका के लिए रवाना गए थे। वहा उन्होंने कुछ समय तक पढ़ाई की और एक अमेरिकी हाई-टेक कंपनी में बहुत अधिक वेतन वाली नौकरी प्राप्त की।

लेकिन किशोर इस नौकरी से संतुष्ट नहीं थे। अमेरिका में रहकर उन्हें अपने वतन की मिट्टी की याद आ रह थी। जिस वजह से उन्होंने इंटेल में एक अच्छी नौकरी छोड़ दी और भारत में अपने गृहनगर कर्नाटक लौट आए क्योंकि उन्हें अमेरिका की आरामदायक जीवनशैली पसंद नहीं थी। वह अपने देश और अपने घर में रहकर कुछ करना चाहते थे।

भारत आने के बाद उनकी जिंदगी में सबसे बड़ा टर्निंग प्वाइंट आया। यहां आकर उनकी जिंदगी बदल गई। हालांकि शुरुआत में उन्होंने काफी मेहनत भी की। अमेरिका से भारत आने के बाद उन्होंने सबसे पहले गाय खरीदी और खुद का डेयरी बिजनेस शुरू किया। बात 2016 की है। फिर उन्होंने अपने कारोबार का इतना विस्तार किया कि आज वे सालाना 3 करोड़ रुपये कमाते हैं।

दरअसल, भारत आने के बाद किशोर ने देखा कि सुरक्षित और स्वस्थ दूध पाने के लिए शहर में बहुत कम विकल्प उपलब्ध हैं। इसलिए उन्होंने गाय खरीदी और लोगों तक जैविक दूध पहुंचाना शुरू किया। प्रारंभ में, उन्होंने और उनके परिवार ने गायों को दूध पिलाने के लिए मिलकर काम किया। फिर उन्होंने इंस्टाल-फ्रिज-स्टोर सिस्टम में निवेश किया। इससे उनका दूध गायों से लेकर उपभोक्ताओं तक सुरक्षित रहता था।

किशोर इंदुकुरी के डेयरी फार्म का नाम “सीड्स फार्म” है। उन्होंने इसका नाम अपने बेटे सिद्धार्थ के नाम पर रखा था। 2012 में, उनके पास 5,000 से अधिक ग्राहक थे। वे तब हैदराबाद और उसके आसपास डिलीवरी कर रहे थे। लेकिन वर्तमान में वे प्रतिदिन 10,000 ग्राहकों तक दूध पहुंचाते हैं। नतीजतन, उनकी वार्षिक आय लगभग 3 करोड़ रुपये है।

किशोर इंदुकुरी की कहानी कई लोगों को प्रेरणा दे रही है। उनसे जमीन से जुड़े रहना सीख सकते हैं। आज का युवा विदेश जाने का सपना देखता है, लेकिन किशोर भारत में रहकर संतोष के साथ अपना काम कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.