कांस्टेबल बन गया IPS अधिकारी, सन्नी देओल की फिल्म ‘इंडियन’ देखकर हुआ था प्रभावित…

आज कल के युवा फिल्मों  से बुरी आदते ज्यादा अपना लेते हे। आज हम आपको एक ऐसे IPS अधिकारी की कहानी बताने जा रहे हैं, जिन्होंने सनी देओल की फिल्म ‘इंडियन’ देखकर अपनी जिंदगी बदल डाली। फिल्म में सनी देओल का पुलिस अधिकारी वाले किरदार से प्रेरणा लेकर उन्होंने रात-दिन महेनत की।

इस फिल्म का इतना गहरा असर पड़ा की बीच में मिली तीन सरकारी नौकरियों को भी इन्होंने छोड़ दिया और तब तक चैन की सांस नहीं ली, जब तक  IPS अधिकारी की वर्दी नहीं पहन ली। इस IPS अधिकारी का नाम हे मनोज रावत ओर वह राजस्थान के जयपुर के एक गांव श्यामपुरा के रहने वाले हैं।

मनोज रावत एक सामान्य परिवार में जन्मे थे। बचपन से ही वह फिल्में देखने के शौकीन थे। उन्हें सबसे ज्यादा पुलिस अधिकारी की फिल्में पसंद थी। 19 साल की उम्र में वह राजस्थान पुलिस में कांस्टेबल के पद पर भर्ती हुए। बादमे उन्होंने पॉलिटिकल साइंस से एमए किया। कांस्टेबल की नौकरी छोड़ उन्होंने कोर्ट में क्लर्क की नौकरी शुरू की। मनोज रावत अब अपने लक्ष्य की ओर ही ध्यान देना चाहते थे। इस लिए उन्होंने CISF की नोकरी को भी ठुकरा दिया।

उन्होंने बताया था की कॉन्स्टेबल की नोकरी के दौरान सनी देओल की फिल्म ‘इंडियन’ देखी थी। तभी उन्होंने  IPS अधिकारी बननेका ठान लिया था। साल 2017 में मनोज रावत ने UPSC का एग्जाम क्लियर किया और देशभर में 824वां रैंक प्राप्त किया। इसके लिए उन्होंने 35 मिनट लंबा इंटरव्यू दिया था। इस समय मनोज रावत IPS अधिकारी के पद पर तैनात हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.