युद्ध में जल गया दुनिया का सबसे बड़ा प्लेन, जो यूक्रेन ने बनाया था…

रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से दोनो देशों को बहोत कुछ नुकसान हुआ हे। यूक्रेन की राजधानी कीव (Kyiv) के पास मौजूद एक एयरफील्ड में खड़े दुनिया के सबसे बड़े विमान को रूसी सैनिकों ने हमले में ध्वस्त कर दिया। इस बात की पुष्टि यूक्रेन सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी की गई है। अब इस प्लेन को लेकर सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं।

यह प्लेन यूक्रेन की सरकार ने बनाया था। यूक्रेन की सरकारी डिफेंस कंपनी यूक्रोबोरोनप्रोम ने अपने बयान में कहा कि एंतोनोव एएन-225 म्रिया (Antonov AN-225 Mriya) विमान ग्रांउड पर है। म्रिया का मतलब सपना होता है। इसे गोस्तोमेल एयरपोर्ट पर ठीक किया जा रहा है। इसके एक इंजन को निकालकर दुरुस्त करने का प्रयास हो रहा है। फिलहाल इस विमान को ठीक करके उड़ाने का प्रयास किया जा रहा है। भविष्य में हम और म्रिया (Mriya) बनाएंगे।

सरकार के प्रवक्ता ने कहा की हम इससे जुकेनेगे नहीं। यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने अपने ट्विटर पर कहा भले ही रूस ने हमारे म्रिया को बर्बाद किया हो। लेकिन वह हमारे सपने को चूर नहीं कर पाएगा। हम एक मजबूत, आजाद औऱ लोकतांत्रिक यूरोपियन देश का निर्माण करेंगे। यूक्रोबोरोनप्रोम ने कहा कि हम रूस के खिलाफ जा कर और म्रिया अगले पांच साल में बनाएंगे। इसमें करीब 3 बिलियन डॉलर्स यानी 22,670 करोड़ रुपये लगेंगे।

इस विमान को उड़ाने के लिए 6 क्रू की जरूरत होती है। यह एक बार में 2.53 लाख किलोग्राम वजन उठा सकता है। एंतोनोव एएन-225 म्रिया (Antonov AN-225 Mriya) के नाम कई रिकॉर्ड हैं। सबसे भारी एयरक्राफ्ट का, सबसे बड़े विंगस्पैन का, सबसे ज्यादा कार्गो 640 टन वजन उठाने का, सबसे बड़ा मालवाहक विमान होने का।

इसकी लंबाई 275.7 फीट और ऊंचाई 59.5 फीट होती है। इसका विंगस्पैन 290 फीट है। यह प्लेन बिना सामान लोड किए भी 2.85 लाख किलोग्राम का है। इसमें एक बार में 3 लाख किलोग्राम ईंधन भरा जा सकता है। यह एक बार में 46 हजार क्यूबिक फीट माल अपने पेट में रखकर उड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.