फ्रांस के एक युवक ने भारत की युवती का चूरा लिया दिल, दुल्हन ने शर्माते शर्माते पहनाई माला…

फ्रांस के एक युवक को एक भारतीय लड़की से प्यार हो गया और उसने उससे शादी कर ली। फ्रांस में रहने वाले रोम का विवाह काशी के मार्कंडेय महादेव मंदिर में भारतीय रीति-रिवाज से हुआ था। इस दौरान मंदिर में मौजूद सभी लोगों ने नवविवाहितों को आशीर्वाद दिया। जिस लड़की ने रोम से शादी की उसका नाम धरती है। पृथ्वी बनारस में एक रेस्टोरेंट चलाती है और यहीं पर रोम की पहली मुलाकात हुई थी। छह महीने पहले हुई इस शादी की तस्वीरें आजकल वायरल हो रही हैं।

धरती और रोम कुछ महीने पहले ही मिले थे। इसके बाद दोनों ने बिना देर किए आखिरी वैलेंटाइन डे से शादी करने का फैसला किया। जानकारी के मुताबिक धरती और रोम की पहली यात्रा दिसंबर 2020 में हुई थी।

धरती गुजराती होने के बावजूद बनारस में अपना रेस्टोरेंट चलाती हैं। दोनों की मुलाकात यहां दिसंबर 2020 में हुई थी। इसके बाद दोनों की मुलाकातें बढ़ने लगीं और दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे। इस बीच एक दिन रोम ने धरती से विवाह करने की इच्छा व्यक्त की। इसके बाद दोनों ने 14 फरवरी को चौबेपुर के मार्कंड महादेव मंदिर में शादी करने का फैसला किया था।

हालांकि मंदिर में दोनों को देखने पहुंचे लोग हैरान तो थे, लेकिन लोगों ने उन दोनों को आशीर्वाद दिया। उनकी शादी मंदिर के पुजारी ने की थी। दोनों ने पहले एक दूसरे को माला पहनाई। फिर फ्रांस के युवा रोम ने धरती की मांग में सिंदूर भरकर सात फेरे लिए।

इस शादी समारोह खत्म होने के बाद दोनों ने ढेर सारी तस्वीरें भी क्लिक कीं थी। अहमदाबाद के मूल निवासी धरती ने बताया कि वह रोम से एक साल पहले काशी में मिली थी। धरती ने गुजरात में पढ़ाई की है और नौकरी के लिए बनारस गई है। धरती ने वाराणसी में अपना रेस्टोरेंट शुरू किया है। रोम जब भी भारत आते थे तो रेस्टोरेंट में धरती से मिलने जरूर जाते थे।

इसी बीच दोनों को प्यार हो गया और रिश्ता इतना गहरा हो गया कि उन्होंने शादी करने का फैसला कर लिया था। हालांकि, इसके बाद रोमन फिर से फ्रांस जा रहे थे, लेकिन उन्होंने वादा किया था कि जब भी वह भारत आएंगे तो धरती से शादी करेंगे। इस बार जब रोमन भारत आए तो उनका विवाह धरती से हुआ।

दोनों ने मंदिर में शादी के बाद शाम को काशी में गंगा आरती का सौभाग्य प्राप्त किया। हा, शादी के बाद धरती ने कहा, ‘उनका परिवार शादी में मौजूद नहीं था। यह उनके दोस्त ही थे जिन्होंने परिवार की सभी रस्म निभाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.